Logo
  • May 22, 2024
  • Last Update April 12, 2024 4:42 pm
  • Noida

डिजी यात्रा के लिए IDEMIA को चुना गया टेक्नोलॉजी पार्टनर

डिजी यात्रा के लिए IDEMIA को चुना गया टेक्नोलॉजी पार्टनर

Digi yatra,  टेक्नोलॉजी और बायोमेट्रिक सोल्यूशन में ग्लोबल लीडर आईडीईएमआईए (आईडिमिया ) ने मंगलवार को घोषणा की कि उसे डिजी यात्रा के लिए जीएमआर ग्रुप द्वारा टेक्नोलॉजी पार्टनर के रूप में चुना गया है। डिजीयात्रा देश को डिजिटल रूप से सशक्त समाज में बदलने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की डिजिटल इंडिया विजन के अनुरूप उड्डयन मंत्रालय द्वारा समन्वित एक उद्योग-आधारित पहल है।

आईडिमिया इंडिया के भारतीय क्षेत्रीय अध्यक्ष मैथ्यू फॉक्सटन ने कहा, हम डिजी यात्रा के लिए जीएमआर ग्रुप के साथ सहयोग और साझेदारी कर रोमांचित हैं, जो सरकार की एक और शानदार डिजिटल पहल है। हम यात्रियों के भरोसे को बनाए रखने के लिए इनोवेशन पर लगातार प्रयास कर रहे हैं और भविष्य की यात्रा को और भी आसान और अधिक सुरक्षित बनाने पर काम कर रहे हैं।

इस कॉन्ट्रैक्ट के तहत, डिजी यात्रा घरेलू यात्रियों की पहचान को सत्यापित करने के लिए दिल्ली, हैदराबाद और गोवा में आईडीईएमआईए की ‘चेहरे की पहचान’ करने वाली तकनीक का उपयोग करेगी, जिससे एयरपोर्ट पर सहज टर्मिनल एंट्री, सुरक्षा मंजूरी और कागज रहित प्रक्रिया बनाए रखने में मदद मिलेगी।

जीएमआर के सीईओ विदेह कुमार जयपुरियार ने कहा, हम आईडीईएमआईए के बेस्ट-इन-क्लास पैजेंसर फ्लो फैसिलिटेशन सॉल्यूशन के साथ साझेदारी कर खुश हैं, जो कम से कम मैन्युअल इंटरवेंशन के साथ एम्बेडेड एंटी-स्पूफिंग कैपेबिलिटीज के साथ पैंजेसर क्लीयरेंस को सक्षम और तेज करेगा।

उन्होंने कहा, आईडीईएमआईए ने दुनिया भर में 250 से ज्यादा एयरपोर्ट पर अवॉर्ड-विनिंग बायोमेट्रिक और डिजिटल टेक्नोलॉजी को लागू किया है। सिंगापुर के चांगी एयरपोर्ट, जिसे 12 बार ‘दुनिया का सबसे बेस्ट एयरपोर्ट’ नामित किया गया है, वह भी आईडीईएमआईए की चेहरे और फिंगरप्रिंट पहचान तकनीकों द्वारा संचालित है।

Kedarnath Yatra: भीमबली-गौरीकुंड के बीच बोल्डर गिरने से यात्रा मार्ग टूटा

चेहरे की पहचान और डिजिटल तकनीकों के इस्तेमाल से आईडीईएमआईए यात्रियों की गोपनीयता और सुरक्षा की रक्षा करते हुए यात्रा को अधिक सुविधाजनक बनाकर डिजीयात्रा में योगदान देता है। कॉन्टेक्टलेस बायोमेट्रिक टेक्नोलॉजी स्वच्छता संबंधी चिंताओं को कम करती हैं और यात्रियों के विश्वास को मजबूत बनाती है।

एयरपोर्ट के लिए आईडीईएमआईए द्वारा डिजाइन किए गए एडवांस फिंगरप्रिंट, फेस और आईरिस रिकग्निशन डिवाइस केवल ‘सिंपल टचलेस टेक्नोलॉजी’ नहीं हैं, वे चलते-फिरते यात्रियों की पहचान करता है। यूजर्स की गोपनीयता का सम्मान करते हुए अधिक दक्षता और सुगम यात्रा को सक्षम बनाता है।

आईडीईएमआईए इंडिया के पब्लिक सिक्योरिटी एंड आइडेंटिटी के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट और बिजनेस हेड आलोक तिवारी ने कहा, वैश्विक मानकों को पूरा करने वाला एक व्यापक और अभिनव समाधान तैयार करने के लिए जीएमआर टीम के साथ काम करना शानदार है। हमें विश्वास है कि हमारे सहयोग से बड़ी सफलता मिलेगी और हम भारत में सभी यात्रियों के लिए सुखद यात्रा अनुभव सुनिश्चित करने के लिए जीएमआर के साथ अपनी साझेदारी जारी रखने की उम्मीद करते हैं।

आईडीईएमआईए का उद्देश्य भारतीय यात्रियों को एक नया और डिजिटल अनुभव प्रदान करना है, जो डिजी यात्रा प्लेटफॉर्म का उपयोग करने की सहमति देने वालों के लिए उनके हवाई यात्रा के अनुभव को आसान, तेज और अधिक सुरक्षित बनाता है।

editor

Related Articles