Logo
  • May 21, 2024
  • Last Update April 12, 2024 4:42 pm
  • Noida

Israel Hamas War: इजरायल पर हमास के बाद हिजबुल्ला का हमला, रॉकेट के बाद मोर्टार के हमलों से थर्राई यहूदियों की धरती

Israel Hamas War: इजरायल पर हमास के बाद हिजबुल्ला का हमला, रॉकेट के बाद मोर्टार के हमलों से थर्राई यहूदियों की धरती

Israel Hamas War: , इजरायल पर हमास के बाद हिजबुल्ला का हमला होने से संकट और बढ़ने का खतरा है। हमास पर जवाबी कार्रवाई पर करे इजरायल को रॉकेट के बाद मोर्टार के हमलों का सामना करना पड़ा है। रॉकेट, मोर्टार और गोला-बारूद के धमाकों से थर्राती यहूदियों की धरती पर सुरक्षा कितनी बड़ी चिंता है, इजरायली सुरक्षा परिषद की पूर्व निदेशक से जानिए

इजरायल की सुरक्षा से जुड़े मामलों की नजदीकी जानकारी रखने वाली महिला अधिकारी हेलिट बरेल ने बताया कि हमले अप्रत्याशित रहे हैं, लेकिन ऐसे नाजुक समय पर भूल या एजेंसियों की खामियों को उजागर करने का कोई लाभ नहीं। उन्होंने कहा कि इजरायल की सेना हमास की हिमाकत का माकूल जवाब दे रही है। बरेल ने कहा कि हमास के हमले अप्रत्याशित रहे हैं। इस बात को स्वीकार करने में कोई संकोच नहीं होना चाहिए, लेकिन सेना की जवाबी कार्रवाई के दौरान आतंकी संगठन को ऐसा जवाब मिलेगा, जिसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की होगी।

उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में महिलाओं और बच्चों के साथ हैवानियत हुई है, जिसे माफ नहीं किया जा सकता। देश की सुरक्षा एजेंसियां से चूक कहां हुई, इसका जवाब तलाशा जा रहा है, लेकिन जवाब मिलने तक इस्राइल आराम से नहीं बैठने वाला। सेनाएं घर-घर और कोने-कोने घूमकर यह सुनिश्चित कर रही हैं कि आतंकवादी कहीं छिप न सकें।

संगीत समारोह में युवाओं की हत्या, हमास को नहीं मिलेगी माफी
तेल अवीव में मौजूद इजरायल रक्षा बल (आईडीएफ) की प्रवक्ता, मेजर लिब्बी वीस ने बताया, इजरायल के साथ व्यापक समर्थन का कारण भयावह आतंकी वारदात है। हमास के हमले के बाद का मंजर कल सभी ने देखा…जब महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों को सीमा पार घसीटा गया। जब संगीत समारोह में युवाओं की हत्या कर दी जाए तो कोई भी ऐसी नृशंस हरकतों का समर्थन नहीं कर सकता। यह दर्दनाक और स्पष्ट है कि हमास युद्ध अपराधी है। उन्होंने इजरायल में जो किया है वह भयानक और पूरी तरह से अक्षम्य है।

जर्मन युवती की हत्या, शव के साथ नृशंस बर्ताव, मां की मार्मिक अपील
बता दें कि जर्मनी की युवती को मौत के घाट उतारने के बाद हमास के आतंकियों ने शव के साथ भी बर्बरता दिखाई। उन्होंने आतंकित करने के मकसद से डेड बॉडी के साथ इजरायली सड़कों पर परेड किया। जर्मन युवती की पहचान के बाद उसकी मां ने हमास के आतंकियों से गुहार लगाई है कि उसकी बेटी की डेड बॉडी लौटा दी जाए।

हमास का मकसद- दुनिया के नक्शे से इजरायल को मिटाना
इजरायल रक्षा बल (आईडीएफ) की प्रवक्ता मेजर लिब्बी वीस के अनुसार, हम जानते हैं कि हमास एक आतंकवादी संगठन है। उनके नापाक मंसूबे इजरायल को नक्शे से मिटाना है। इजरायली नागरिकों को निशाना बनाने के बारे में आतंकी संगठन नियमित रूप से बात करता रहा है। उन्होंने अपना मकसद नहीं छिपाया है। यही उनका इरादा है। इसके बारे में हम दुनिया से बात कर रहे हैं। अब इस आतंकवादी संगठन की क्रूरता के बारे में कोई सवाल बाकी नहीं है। इजरायल की सड़कों पर वास्तविक रूप से भयानक आतंक का मंजर देखा जा सकता है।

editor

Related Articles