Logo
  • April 16, 2024
  • Last Update April 12, 2024 4:42 pm
  • Noida

Shree Kashi Vishwanath Dham, पकड़े गए तीन संदिग्ध, सुरक्षा एजेंसी सतर्क

Shree Kashi Vishwanath Dham, पकड़े गए तीन संदिग्ध, सुरक्षा एजेंसी सतर्क

Shree Kashi Vishwanath Dham, श्री काशी विश्वनाथ धाम गेट नंबर चार से रविवार की शाम आरती के समय तीन संदिग्ध परिसर में प्रवेश कर गए। इसमें दो युवक दूसरे समुदाय के हैं। आंतरिक सुरक्षा ड्यूटी में लगे सीआरपीएफ दरोगा ने तीनों को पूर्वी द्वार से पकड़ा।

पुलिस के अनुसार तीनों के कब्जे से किसी तरह का कोई प्रतिबंधित सामान या अन्य कुछ ऐसी वस्तु नहीं मिली। फिलहाल चौक थाने में तीनों से आईबी समेत अन्य सुरक्षा एजेंसियां पूछताछ कर रही हैं।

Poonam Pandey ने येलो बिकिनी में फ्लॉन्ट किया कर्वी फिगर, फैन्स ने शेयर किए फायर इमोज़ी

तीनों युवक झारखंड के गिरीडीह के रहने वाले हैं। शाम के समय गेट नंबर चार से दर्शनार्थी प्रवेश कर रहे थे। इस दौरान झारखंड के गिरीडीह निवासी तीनों युवक भी गेट नंबर चार से प्रवेश कर पूर्वी द्वार की तरफ बढ़ गए। सुरक्षा में तैनात सीआरपीएफ के एक दरोगा को तीनों युवकों पर शंका हुई तो रोक लिया।

एक ही गांव के रहने वाले तीनों
तीनों से नाम पता पूछा तो दो युवकों ने अपने को दूसरे समुदाय का बताया। तीनों एक ही गांव के रहने वाले हैं और दोस्त के संग दर्शन को चले आए। गैर समुदाय के दो युवकों के प्रवेश पर सुरक्षा तंत्रों में हलचल मच गई और तीनों को गेट नंबर चार के पास ही बैठा लिया गया।

Sahara India में अगर आपका भी फंसा है पैसा तो पाने का यह है तरीका

उच्चाधिकारियों को घटना से अवगत कराते हुए तीनों युवकों को चौक पुलिस ने हिरासत में लिया। एसीपी दशाश्वमेध अवधेश पांडेय ने बताया कि तीनों से पूछताछ की गई, इनके पास से कुछ बरामद नहीं हुआ। आईबी ने भी पूछताछ की है। फिलहाल उन्हें थाने पर बैठाया गया है।

हरा गमछा लपेटे थे दो युवक
गैर समुदाय के दो युवकों के श्रीकाशी विश्वनाथ धाम में प्रवेश को लेकर एलआईयू, आईबी समेत अन्य एजेंसियां अलर्ट मोड में हैं। शाम से लेकर देर रात तक युवकों से पूछताछ हुई। झारखंड के गिरीडीह थाने से भी युवकों के बारे में पुलिस तस्दीक कराएगी। चौक पुलिस के अनुसार हिरासत में लिए गए युवकों से हुई पूछताछ में मालूम चला कि तीनों को अजमेर शरीफ जाना था।

मंगेतर ने ही लीक किया था PAK Actress का इंटीमेट वीडियो

शाम को कैंट स्टेशन से उनकी ट्रेन थी। झारखंड से ट्रेन पकड़ने वाराणसी आए तो घाट और काशी विश्वनाथ धाम घूमने की लालसा में मंदिर तक आ गए। अपने दोस्त के संग गैर समुदाय के दो युवक भी कॉरिडोर में प्रवेश कर गए। गेट नंबर चार से बाएं होते हुए चौक की तरफ जा रहे थे।

तभी सुरक्षा में लगे सीआरपीएफ के एक दरोगा ने तीनों को देखा। शक होने पर रोक लिया गया। पुलिस के अनुसार युवकों के पास से कोई संदिग्ध या प्रतिबंधित वस्तु नहीं मिली। मोबाइल को कब्जे में लेकर खंगाला गया। आईबी अधिकारियों ने भी पूछताछ की।

editor

Related Articles