Logo
  • April 15, 2024
  • Last Update April 12, 2024 4:42 pm
  • Noida

पंजाब का पानी राजस्थान को देने पर भड़का अकाली दल, ऐलान- आंदोलन करेंगे

पंजाब का पानी राजस्थान को देने पर भड़का अकाली दल, ऐलान- आंदोलन करेंगे

पंजाब का पानी राजस्थान को देने पर इस समय गहरा विवाद चल रहा है, जिसमें शिरोमणि अकाली दल ने मान सरकार पर सवाल उठाते हुए शिअद के महासचिव परमबंस सिंह रोमाणा ने कहा है कि आम आदमी पार्टी सरकार ने गंग नहर से राजस्थान के लिए 900 क्यूसेक की स्वीकृत क्षमता के मुकाबले चुपके से अतिरिक्त 1850 क्यूसेक पानी छोड़ दिया है. आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री भगवंत मान सरहिंद फीडर से भी राजस्थान का पानी आवंटन बढ़ाने की तैयारी कर रहे हैं.

प्रेस वार्ता करते हुए उन्होंने कहा कि जब से मुख्यमंत्री ने बठिंडा में राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के प्रमुख हनुमान बेनीवाल से मिले हैं, तब से राजस्थान का नदी जल आवंटन बढ़ रहा है, इस समय गंग नहर से आवंटन बढ़ाकर 2750 कर दिया गया है. साथ ही उन्होने घोषणा की कि पार्टी गंग नहर से अतिरिक्त पानी के प्रवाह को रोकने के लिए धरना देगी. और ना ही सरहिंद फीडर से एक बूंद भी अतिरिक्त पानी राजस्थान में जाने की अनुमति देगी. अगर ऐसा होता है तो अकाली दल पुरजोर विरोध करेगा.

शिअद के महासचिव परमबंस सिंह रोमाणा ने कहा कि हरियाणा और राजस्थान में जल्द ही चुनाव होने वाले है जिसको लेकर आप अभी से वहां अपना प्रभुत्व स्थापित करने में लगी हुई है, यही आप का एजेड़ा है. इससे पहले गुजरात और हिमाचल प्रदेश के मामले में भी ऐसा किया गया था दूसरे राज्यों में अपना विज्ञापन देने के लिए करोड़ों रूपये खर्ज किए गए थे. साथ ही उन्होंने सभी राजनीतिक पार्टियों और संगठनों से पंजाब के जल संसाधनों की रक्षा करने के लिए शिअद को समर्थन देने की अपील की है. उन्होंने कहा कि राज्य के 150 में से 109 ब्लॉक पहले से ही डार्क जोन में हैं और इस बात का डर है कि अगर भूजल संसाधनों की कमी मौजूदा गति से जारी रही तो राज्य का बड़ा हिस्सा राजस्थान बन जाएगा.

editor

Related Articles