Logo
  • July 24, 2024
  • Last Update June 22, 2024 7:38 am
  • Noida

Gujarat assembly elections 2022: भाजपा के मजबूत गढ़ में सेंध! सूरत में केजरीवाल ने तैयार कर लिया फॉर्मूला

Gujarat assembly elections 2022: भाजपा के मजबूत गढ़ में सेंध! सूरत में केजरीवाल ने तैयार कर लिया फॉर्मूला

Gujarat assembly elections 2022: गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए भाजपा, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी समेत तमाम दल आखिरी चोट करने को तैयार हैं। पहले चरण में एक दिसंबर को 89 सीटों पर वोटिंग होनी है। इससे पहले 12 सीट कवर करने वाले सूरत में आज पीएम नरेंद्र मोदी और दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल की बड़ी चुनावी रैलियां होनी हैं। पीएम मोदी की तरह केजरीवाल भी रैली से पहले सूरत में रोड शो निकालेंगे। केजरीवाल ने भाजपा के मजबूत गढ़ सूरत में बड़ी सेंध के लिए फॉर्मूला तैयार कर लिया है। क्या है केजरीवाल का नया फॉर्मूला, समझते हैं…

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और आम आदमी पार्टी (आप) के नेता अरविंद केजरीवाल रविवार को गुजरात के ‘डायमंड सिटी’ सूरत में प्रचार रैलियों को संबोधित करेंगे। सूरत सभी दलों के काफी महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह राज्य की 182 सदस्यीय विधानसभा में से 12 सीटों को कवर करता है।

भाजपा के स्थानीय नेता जगदीश पटेल के मुताबिक, पीएम मोदी हवाईअड्डे से रैली स्थल तक 25 किलोमीटर के रोड-शो के बाद मोदी सूरत के मोटा वराछा में एक जनसभा को संबोधित करेंगे। उनका भरूच के नेतरंग और खेड़ा जिले में तीन रैलियों को संबोधित करने का भी कार्यक्रम है। उधर, केजरीवाल भी सूरत के दो दिवसीय दौरे पर होंगे। केजरीवाल योगी चौक में एक जनसभा को संबोधित करेंगे। आप के प्रदेश महासचिव मनोज सोरठिया ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री कटारगाम में रोड शो भी करेंगे।

Gujarat Polls: गुजरात में ओवैसी की एंट्री बढ़ाएगी कांग्रेस की धड़कनें, मुस्लिम वोट पर केजरीवाल की भी नजर

केजरीवाल का नया फॉर्मूला
सूरत जो लंबे समय तक कपड़ा और हीरा उद्योग और इस क्षेत्र से जुड़े लाखों लोगों के समर्थन से भाजपा का गढ़ रहा है, यहां केजरीवाल बड़ी सेंध की तैयारी में हैं। पार्टी के प्रदेश महासचिव मनोज सोरठिया का कहना है कि सूरत में अरविंद केजरीवाल कपड़ा उद्योग के नेताओं के साथ महत्वपूर्ण बैठक करेंगे। इसके अलावा केजरीवाल का रत्न कारीगरों के साथ भी मुलाकात का प्रोग्राम है।

editor
I am a journalist. having experiance of more than 5 years.

Related Articles