Logo
  • July 13, 2024
  • Last Update June 22, 2024 7:38 am
  • Noida

Panorama Music ने हासिल किये विक्रम गोखले और रेवती स्टारर फ़िल्म ‘जगजीवन की पत्नी का तीसरा प्यार’ के म्यूज़िक राइट्स

Panorama Music ने हासिल किये विक्रम गोखले और रेवती स्टारर फ़िल्म ‘जगजीवन की पत्नी का तीसरा प्यार’ के म्यूज़िक राइट्स

Panorama Music, कुमार मंगत की पैनोरमा म्यूज़िक कंपनी ने अभिनेता विक्रम गोखले अभिनीत हिंदी फ़ीचर फ़िल्म ‘जगजीवन की पत्नी का तीसरा प्यार’ के म्यूज़िक राइट्स को हासिल करने पर अपनी ख़ुशी जताई है।

इस फ़िल्म में हाल ही में दिवंगत हुए उम्दा कलाकार विक्रम गोखले के साथ जानी-मानी अभिनेत्री रेवती मुख्य भूमिका में नज़र आएंगी। फ़िल्म में यह दोनों कलाकार बुजुर्ग दम्पति के रूप में दिखाई देंगे जिनके आत्मीय रिश्ते को पर्दे पर बड़े ही अनूठे अंदाज़ में पेश किया गया है।

Varanasi, प्रभु यीशु के जन्मदिन पर लाल गिरजाघर में तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन

हाल ही में रिलीज़ किये गये फ़िल्म के पहले गाने ‘तू अब आया’ को फ़िल्म के निर्देशक राजेश बच्चन ने ख़ुद ही ख़ूबसूरत लफ़्ज़ों से पिरोया है जबकि फ़िल्म का संगीत संजॉय डैज़ और अम्बर दास की संगीतकार जोड़ी ने दिया है। इस गाने को संगीतकार और गायक अम्बर दास ने अपनी मधुर आवाज़ में गाया है।

गाने की रिलीज़ मौके पर पैनोरमा म्यूज़िक के सीईओ राजेश मेनन ने कहा, यह फ़िल्म हाल ही में हम सबको छोड़कर चले गये और देश के सबसे प्रतिभाशाली कलाकारों में से एक विक्रम गोखले के प्रति हमारी श्रद्धांजलि होगी।

फ़िल्म का गाना ‘तू अब आया’ फ़िल्म के दोनों लीड कलाकारों के बीच के भावनात्मक रिश्ते को बख़ूबी दर्शाता है। दर्शक हाल ही में पैनडैमिक से उपजे हालात के बीच रिश्तों की अहमियत को बख़ुबी ढंग से समझने लगे हैं और यह गाना भी रिश्तों की अहमियत को बड़े ही भावुक अंदाज़ में रेखांकित करता है।

Too Hot to Handle: Giorgia Andriani पहनी हद से ज्यादा छोटी स्कर्ट, टांगा बैग

हम ‘जगजीवन की पत्नी का तीसरा प्यार’ के संगीत को लेकर काफ़ी उत्साहित हैं। फ़िल्म के गानों को पैनोरमा स्टूडियोज इंटरनैशनल द्वारा प्रस्तुत किया गया है।”

फ़िल्म विक्रम गोखले (जगजीवन) और रेवती (सुरू) की ज़िंदगी के इर्द-गिर्द घूमती है जिन्होंने लगभग पांच दशक पहले एक-दूसरे संग फेरे लिए थे। दोनों पहाड़ों में ख़ुशहाल ज़िंदगी व्यतीत कर रहे होते हैं मगर सुरू की डिमेंशिया (स्मृतिभ्रंश) की बीमारी रह-रहकर दोनों की सुकून भरी ज़िंदगी में खलल डालती रहती है और इस तरह से सुरू को अपने पति से दूर ले जाती है।

BJP suspends Jan Aakrosh Yatra: कोरोना के खतरे को देखते हुए BJP ने रद्द की अपनी 75000 KM की यात्रा

ऐसे में जगजीवन की ज़िंदगी का महज़ एक ही लक्ष्य रह जाता है और वह लक्ष्य है सुरू की खोई हुई हंसी को वापस लाना ताकि दोनों साथ में मिलकर हंस सकें और एक-दूसरे के साथ अपनी ख़ुशियां साझा कर सकें।

फ़िल्म के निर्देशक और गीतकार राजेश बच्चन कहते हैं, “फ़िल्म का गाना ‘तू अब आया’ में डिमेंशिया के प्रभाव को दर्शया गया है जो बड़ी तेज़ी से लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। मैं जानता हूं कि जगजीवन और सुरू की ये अनोखी प्रेम कहानी लोगों को जज़्बाती कर देगी।”

editor

Related Articles