Logo
  • May 23, 2024
  • Last Update April 12, 2024 4:42 pm
  • Noida

शिवराज सिंह चौहान विभिन्न विभागों के चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्रों का वितरण किया

शिवराज सिंह चौहान विभिन्न विभागों के चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्रों का वितरण किया

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल स्थित रवींद्र भवन सभागार में विभिन्न विभागों के चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्रों का वितरण किया. उनके साथ कैबेनेट मंत्री प्रभुराम चौधरी और पशु पालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल मौजूद रहे. इस दौरान चौधरी ने सीएम को तुलसी का पौधा भेंट कर उनका स्वागत किया.

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम चौहान ने बताया कि मध्य प्रदेश में लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग में 925 डॉक्टरों की नियुक्ति हो रही है. यह एक ऐतिहासिक कदम है. उन्होंने बताया कि राज्य में अन्य विभागों में भी न्युक्तियां हो रही हैं. अक्सर ऐसी परंपरा नहीं थी कि इस तरह नियुक्ति पत्र दिया जाए, लेकिन मैं आपको जी भर के देखान चाहता था.

सीएम ने कहा कि लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि शरीर सभी धर्मों का पालन करने का माध्यम है, अगर आपका शरीर स्वस्थ्य है, तो आप हर काम कर सकते हैं. और अगर आपका शरीर स्वस्थ्य नहीं हो तो आप अपनी परिवार पर भी बोझ बनने लगते हैं. हमेशा स्वस्थ्य रहना अच्छी बात है, लेकिन बीमारियां आती ही रहती हैं और इसके लिए इलाज जरूरी है. इलाज के लिए कितने ही अस्पताल बना दो लेकिन उसकी आत्मी डॉक्टर और अस्पताल का स्टाफ है.

सीएम ने कहा कि जनता भगवान के बाद सबसे बड़ा दर्जा डॉक्टर को देती है. इसलिए आपका काम सिर्फ नौकरी नहीं बल्कि जनता की जिंदगी बचाने का अभियान है. इसलिए पिछले दिनों ही हमने डॉक्टरों की सभी चिंताओं को दूर करने की कोशिश की है. यह आपकी जिम्मेदारी की है रोगी अस्पताल आएं, तो यह देखें कि वह किस तरह अस्पताल से ठीक होकर जाएंगे. उन्होंने डॉक्टरों से कहा कि आपकी चिंता मैं करुंगा मेरा वादा है, आप बस जनता की चिंता करो. क्योंकि मैं सरकार नहीं, बल्कि परिवार चला रहा हूं.

मुख्यमंत्री चौहान ने ओंकारेश्वर में वैदिक रीति-रिवाज से पूजा अर्चना की

सीएम ने आगे कहा कि लोगों का सुख अपना सुख है, दूसरे का दुख मेरा दुख है, लेकिन यह केवल स्वास्थ्य पर ही नहीं बल्कि कृषि पर बी निर्भर है. मैं अभी चिंतित का अगस्त में बारिश नहीं हुई और पूरा महीने खेती सूखने लगी. किसानों को लाइट सप्लाई नहीं पूरी हो पा रही थी. ऐसे में महाकाल महाराज की शरण में गया और उनसे बारिश करने की कृपा कि इसके बाद ही बारिश होगई और अब हम जमकर बिजली बनाएंगे.

editor
I am a journalist. having experiance of more than 5 years.

Related Articles