Logo
  • May 22, 2024
  • Last Update April 12, 2024 4:42 pm
  • Noida

जिसके खेल पर समूचा हिंदुस्तान करता है नाज, टीम इंडिया में जरूर चुना जाना चाहिए सरफराज: गावस्कर

जिसके खेल पर समूचा हिंदुस्तान करता है नाज, टीम इंडिया में जरूर चुना जाना चाहिए सरफराज: गावस्कर

विंडीज दौरे पर टेस्ट टीम में सिलेक्शन ना होने पर सुनील गावस्कर ने सरफराज खान को रणजी ट्रॉफी ना खेलने की सलाह दी है। वेस्टइंडीज के खिलाफ चेतेश्वर पुजारा को ड्रॉप कर दिया गया और उनकी जगह यशस्वी जायसवाल को मौका दिया गया। पर पिछले कुछ वर्षों से घरेलू क्रिकेट के सबसे सफल बल्लेबाज सरफराज खान को फिर एक दफा भारतीय टीम में नहीं चुना गया। जैसे ही टीम के चयन की खबर सामने आई और फिर से सरफराज को शामिल नहीं किया गया, तो इस युवा क्रिकेटर ने इंस्टा स्टोरी पर एक पोस्ट शेयर किया। जो पोस्ट सरफराज ने शेयर किया है, उसमें नेट की तस्वीर है और कैप्शन में लिखा है ‘वन लव’। सरफराज ने ऐसा कर एक बार फिर यह बताने की कोशिश की है कि वो हिम्मत नहीं हारेंगे और लगातार मेहनत करते रहेंगे। सरफराज की बेबसी की अब इंतहां हो चुकी है। उन्होंने सब कुछ कर लिया, फिर भी चयनकर्ताओं ने सरफराज को दुत्कार दिया।

सरफराज खान जरूर मेहनत करने की बात कर रहे हैं, लेकिन भारत के महानतम खिलाड़ी रहे सुनील गावस्कर चयनकर्ताओं पर बुरी तरह भड़क गए हैं। गावस्कर की नाराजगी के पीछे सरफराज खान के आंकड़े हैं। बता दें कि सरफराज खान घरेलू क्रिकेट में लगातार शानदार बल्लेबाजी कर रहे हैं, खासकर रणजी ट्रॉफी में सरफराज ने कमाल की बल्लेबाजी की है। अबतक सरफराज ने 37 फर्स्ट क्लास मैच में 3505 रन बनाए हैं, जिसमें उनके नाम 13 शतक और 9 अर्धशतक हैं।

फर्स्ट क्लास क्रिकेट में सरफराज का औसत लगभग 80 का है। वहीं, पिछले 3 रणजी सीजन में सरफराज ने 100 के औसत के साथ रन बनाकर खुद को साबित किया है। घरेलू क्रिकेट में सिर्फ और सिर्फ डॉन ब्रैडमैन ही औसत के मामले में सरफराज खान से आगे हैं। एक वक्त तो ऐसा आ गया था, जब सरफराज ने एवरेज के मामले में ब्रैडमैन को भी पछाड़ दिया था। अगर सरफराज किसी और देश में होते, तो काफी पहले नेशनल टीम में जगह बना चुके होते।

टीम इंडिया में खेलने के लिए सरफराज को और करना होगा इंतजार

सुनील गावस्कर ने स्पोर्ट्स तक पर बात करते हुए कहा कि टीम का चयन IPL के परफॉर्मेंस के आधार पर करना है, तो फिर रणजी ट्रॉफी को बंद कर देना चाहिए। सरफराज ने घरेलू क्रिकेट में लगातार रन बनाए हैं, अब उसे टीम में आने के लिए क्या करना होगा। भले ही उसे प्लेइंग XI में तुरंत शामिल ना किया जाए, लेकिन वह टीम में चुने जाने का हकदार है।

गावस्कर ने सीधे तौर पर कहा कि, चयनकर्ता उनसे बात करें और उन्हें बताएं कि उनके परफॉर्मेंस पर नजर हैं और उनका इसका फायदा भविष्य में मिलेगा। अगर चयनकर्ता ऐसा नहीं करते हैं, तो सरफराज को रणजी खेलना बंद कर देना चाहिए। सुनील गावस्कर ने कहा कि सरफराज के साथ लंबे अरसे से नाइंसाफी की जा रही है। चयनकर्ता जानबूझकर उसका करियर अंधेरे में धकेल देना चाहते हैं। अगर सरफराज के हक में आवाज बुलंद नहीं की गई, तो एक युवा सितारा हमेशा के लिए डूब जाएगा।

editor
I am a journalist. having experiance of more than 5 years.

Related Articles