Logo
  • May 23, 2024
  • Last Update April 12, 2024 4:42 pm
  • Noida

सबसे ज्यादा ODI मैच इन ग्राउंड्स पर खेले गए

सबसे ज्यादा ODI मैच इन ग्राउंड्स पर खेले गए

अब तक 4000 से अधिक वन—डे अंतर्राष्ट्रीय मैचों का आयोजन हो चुका है लेकिन सिर्फ पांच मैदान ही ऐसे हैं जिन्होंने 100 से ज्यादा मैचों का आयोजन हुआ है। पेश है लेखा जोखा

1. शारजाह क्रिकेट स्टेडियम, शारजाह (संयुक्त अरब अमीरात)

शारजाह क्रिकेट स्टेडियम, संयुक्त अरब अमीरात का सबसे पुराना क्रिकेट स्टेडियम है. इस मैदान पर अब तक कुल 231 वनडे मैच खेले गए है. इस मैदान पर पहला वनडे मैच 1984 में पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच जबकि अंतिम मैच 2017 में अफगानिस्तान और आयरलैंड के बीच खेला गया था. 1984 से 2003 के बीच इस मैदान पर कुल 198 वनडे मैचों का आयोजन हुआ था. वर्तमान में यह स्टेडियम संयुक्त अरब अमीरात और पाकिस्तान क्रिकेट टीम का घरेलू मैदान है.

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (154)
अंतर्राष्ट्रीय वन—डे मैचों की मेजबानी करने में दूसरे नंबर पर आॅस्ट्रेलिया का सिडनी क्रिकेट ग्राउंड है जो कि अब तक 154 मैचों का गवाह बना है। 1848 में बने इस मैदान की दर्शक क्षमता 48000 से अधिक और यहां पहला वन—डे मैच आॅस्ट्रेलिया और इंगलैंड के बीच 13 जनवरी,1979 को खेला गया था। अब तक इस मैदान पर खेले गये 154 मैचों में से 147 में हार—जीत का फैसला हुआ है जबकि सात मैच बेनतीजा रहे हैं। आॅस्ट्रेलिया के दिग्गज खिलाड़ी एलन बॉर्डर ने इस मैदान पर 65 मैचों में दो शतक की मदद से सबसे अधिक 1561 रन बनाये हैं तो ग्लेन मैक्ग्राथ ने यहां 27 मैचों विकेटों का अर्धशतक पूरा किया है।

मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (147)
1853 में बनकर तैयार होने वाले इस मैदान की दर्शक क्षमता 90000 है जो कि दुनिया में सर्वाधिक है। यहां पहला मैच आॅस्ट्रेलिया और इंगलैंड के बीच 5 जनवरी,1971 को खेला गया था और यह मैदान अब तक 147 मैचों का आयोजन कर चुुका है। एमसीजी के उपनाम से दुनियाभर में चर्चित इस मैदान पर 143 मैचों में हार—जीत का निर्णय हुआ है तो एक मैच टाई रहा है जबकि तीन मैच बेनतीजा रहे हैं। 41 मैचों में सात शतक की मदद से 2108 बनाने वाले रिकी पोंटिंग यहां के बल्लेबाजी हीरो हैं तो कंगारू स्पिनर शेन वॉर्न ने 28 मैचों में सर्वाधिक 46 विकेट अपने नाम किये हैं।

हरारे स्पोटर्स क्लब (136)
136 मैचों की मेजबानी करने के कारण जिम्बाब्वे का हरारे स्पोटर्स मैदान चौथे पायदान पर है। 1990 में बनकर तैयार होने वाले इस मैदान पर 10000 दर्शक एक साथ बैठकर मैच का आनंद उठा सकते हैं और इस मैदान पर पहली भिड़ंत मेजबान जिंबाब्वे और भारत के बीच 25 अक्टूबर,1992 को हुई थी। हरारे पर खेले गये 136 मैचों में से 134 में हार—जीत का फैसला हुआ है जबकि एक मैच टाई तो एक बेनतीजा रहा है। इस मैदान पर जिम्बाब्वे के बल्लेबाज ब्रेंडेन टेलर ने 54 मैचों में तीन शतक की मदद से सर्वाधिक 1889 रन बनाये हैं तो स्पिनर प्रॉस्पर उत्सैया ने 60 मैचों में सबसे अधिक 52 विकेट अपने नाम किये हैं।

आर. प्रेमादासा स्टेडियम, कोलंबो (124)
अंतर्राष्ट्रीय वन—डे मैचों की मेजबानी करने के मामले में श्रीलंका का आर. प्रेमादासा स्टेडियम, कोलंबो 124 मैचों के साथ पांचवें स्थान पर है। 1986 में बने इस मैदान की दर्शक क्षमता 35000 है और यहां पहला मैच श्रीलंका और पाकिस्तान के बीच 9 मार्च, 1986 को खेला गया था। 116 मैचों में यहां हार—जीत का फैसला हुआ है जबकि आठ मैच
बेनतीजा रहे हैं। श्रीलंका के विस्फोटक खब्बू बल्लेबाज सनत जयसूर्या ने इस मैदान पर 71 मैचों में चार शतक की मदद से सर्वाधिक 2514 रन बनाये हैं तो जादुई स्पिनर मुथैया मुरलीधरन ने 57 मैचों में 75 विकेट लेकर अपना झंडा बुलंद किया हुआ है।

editor
I am a journalist. having experiance of more than 5 years.

Related Articles